क़ुरान मजीद को तजवीद से पढ़ना एक अलग शोबा है वो इन्शाल्लाह हम बाद में शुरू करेंगे। मगर अभी हम सिर्फ हुरूफ़ की अदाएगी करना सीख रहे हैं।

Open chat
Need Help?
Hello !
This is Bararah Institute
Aap Arabic sikhne ke mutalliq kuchh bhi puchh sakte hain.
Powered by