क्यूँकि अरबी हुरूफ़ को हिंदी में बिलकुल हू बा हू लिखना मुमकिन नहीं है इसलियें हुरूफ़ को बोलने के अंदाज़ पर ग़ौर कीजिये।

Open chat
Need Help?
Hello !
This is Bararah Institute
Aap Arabic sikhne ke mutalliq kuchh bhi puchh sakte hain.
Powered by