यह सारे हरुफु अल हिजा अलग अलग पढ़ने पर ऐसे ही पढ़े जाएंगे। मिलाकर पढ़ने पर हम अलग तरीके से पढ़ेंगे। हम इंशाल्लाह आगे चलकर पढ़ेंगे।

Leave a Comment

Open chat
Need Help?
Assalamu Alaykum!
This is Bararah Institute
Aap Arabic sikhne se mutalliq kuchh bhi puchh sakte hain.